चलिए हम बताते हैं कि चीटियां हमेशा एक लाइन में ही क्यों चलती हैं । 

आपको जानकर हैरानी होगी कि चींटियों की आंखें होती हैं, लेकिन वो सिर्फ दिखावे के लिए होती हैं

खाने की तलाश में जब ये चींटियां बाहर निकलती हैं तो उनकी रानी रास्ते में फेरोमोन्स नाम का एक रसायन छोड़ते हुए जाती है, जिसकी गंध को सूंघते हुए बाकी चींटियां भी उसके पीछे-पीछे चलती जाती हैं, जिससे एक लाइन बन जाती है

फेरोमोंस का प्रयोग बहुत सी स्थितियों में होता है,जैसे अगर कोई चींटी कुचल जाए तो चेतावनी के लिये फेरोमोन का स्त्राव करती है जिससे बाक़ी चींटियाँ हमले के लिए तैयार हो जाती हैं|

चींटियां हमेशा कॉलोनी बनाकर रहते हैं. इसमे रानी चींटी, नर चींटी और बहुत सारी मादा चीटियां होती हैं

दुनिया की सबसे खतरनाक चींटियां ब्राजील में स्थित अमेजन के जंगलों में पायी जाती हैं

अंटार्कटिका को छोड़कर दुनिया के हर कोने में चींटियां पायी जाती हैं

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चींटियां सबसे लंबे समय तक जीवित रहने वाले कीड़ों की श्रेणी में आती हैं चींटियों का जीवनकाल लगभग 30 वर्ष या उससे अधिक भी हो सकता है ।

जैसा की हमने आपको बताया कि चीटियों की आंखें नहीं होती, उसी तरह उनके कान भी नहीं होते। साथ ही इनमें फेफड़े भी नहीं होते। सांस लेने के लिए उनकी बॉडी पर छोटे-छोटे छिद्र होते हैं। उसके जरिये ही इनकी बॉडी में ऑक्सीजन और कार्बन डाइऑक्साइड का आगमन होता है।

इस तरह की अन्य पोस्ट पढ़ने के लिए आप निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें। 

Arrow